Monday, 28 January 2013

प्रिय पाठकगण

मैं अपने प्रिय पाठकों, ब्लॉग-मित्रों, सदस्यों को नववर्ष की हार्दिक शुभकामनाएं भेजता हूं तथा अवगत कराना चाहता हूं कि ब्लॉग - फेसबुक पर मैंने 1 जनवरी 2012 से लेकर 31 दिसम्बर 2012 तक की प्रतिदिन लिखी कविताएं प्रकाशित की है। मित्रों ने यह लिखकर मुझे प्रोत्साहित किया है कि इस प्रकार का प्रयास विश्व के साहित्य मंच पर घटित प्रथम रचनात्मक घटना है। मुझे प्रसन्नता है कि मेरे छोटे प्रयास को हिन्दी साहित्य के पाठकों ने ग्रहण किया।

मैं वर्ष 2013 से उत्तर महाभारतम् महाकाव्य पर कार्य कर रहा हूं जिसे इसी वर्ष पूरा करने का प्रयास करूंगा। अतः ब्लॉग पर अब अन्य साहित्य विधाओं पर विचार-संस्कार, लेखन कभी-कभी ही प्रस्तुत करूंगा। मैं अपने प्रिय पाठकों को धन्यवाद देता हूं और अनुरोध करता हूं कि मेरे साथ बने रहें।

                                                                                                        - स्वदेश भारती


Dear Readers, Blog-Friends, Members happy and most prosperous New Year to you and inform that in 2012 I have written on my Blgo everyday poems which was accepted and rejoiced. This has given me strength & encouragement. This is the first instance in literary History. I am happy the Hindi Poetry lovers have liked my work. since 2013 I have started writing 'Uttar Mahabharatam' and therefore daily poetry writing on Blog is not possible.

I thank my readers and request them to be with me and my writing.
                                                                                                      - Swadesh Bharati

No comments:

Post a Comment