Saturday, 21 January 2012

सेना बनाम सरकार

सेना और सरकार के बीच विवाद और अन्तर्विरोध दुर्भाग्य जनक है। इससे देश की सुरक्षा में लगी सेना का मनोबल घटता है। बल्कि सरकार की भी भद्दगी होती है। अन्तर्राष्ट्रीय स्तर पर भी देश का नाम उछलता है। सरकार को सेना प्रमुख  जेनरल बी. के. सिंह के मामले को तुरन्त सुलझा लेना चाहिए। ऐसा भारत की जनता भी चाहती है। इस विषय में लगभग 20 प्रबुद्ध व्यक्तियों से बातचीत के दौरान सभी का यही अभिमत पाया।

No comments:

Post a Comment