Tuesday, 22 November 2016

मित्र बनने के लिये आभारी हूँ !
जीवन में आप मित्रता के बंधन को सुरक्षित रखें।


- डॉ. स्वदेश भारती

No comments:

Post a Comment